-->

बेस्ट शायरी हिंदी में Love, hindi shayari collection, - हिंदी शायरी दो लाइन

बेस्ट शायरी हिंदी में Love
बेस्ट शायरी हिंदी में Love


रुक जाएगा सिलसिला ,,
यह भी एक दिन !
आंखों का पानी ही तो है ,,
सूख जाएगा एक दिन!!


"एक वहीं थी"
जिससे बेहिसाब मोहब्बत की थी !!
और उसने मुझे तबाह करने में कोई कसर ना छोड़ी !!!


ना जाने कब खत्म होंगी यह आदतें!!
 उसके हर छोटे-छोटे जख्म पर 
आंसू बहाने की..!!!


मरना तो तय था !
बेहिसाब मोहब्बत जो कर ली..!!


मजार पर चढ रही थी
चादर हजार...
और दो गरीब के बच्चे कागज
ओढ कर सो गए....


ऐ मेरे पाँव के छालों ! 
जख्मो को साथ ही रखना...
जमाना मुझसे मेरे 
सफर के निशान माँगेगा 😔


ना जाने 
वो कौन से धागे से बंधे है हम
दूर जायें तो टूटने का डर है, 
और पास आयें तो उलझने का डर है ...!!
 ✍


दिन हुआ है, तो रात भी होगी,
मत हो उदास , उससे कभी बात भी होगी
ये प्यार है ही इतना प्यारा ,
ज़िंदगी रही तो मुलाकात भी होगी


हर शख़्स को मिलती नही मुँह माँगी मुरादें
हर शख़्स मुक़द्दर का सिकंदर नही होता


तुम लहरों सी चली आना...
मैं किनारों सा इंतज़ार करूँगा... 


इश्क़ करना है तो रात की तरह करो
जिसे चांद भी क़ुबूल हो
और उसके दाग भी क़ुबूल हो....!!!


"ज़िन्दगी में यही देखना ज़रूरी नहीं है,
कि कौन हमारे आगे है या कौन हमारे पीछे........
कभी यह भी देखना चाहिये कि, 
हम किसके साथ हैं, और कौन हमारे साथ है......"


दुखो के बोझ में ज़िन्दगी 
कुछ इस तरह डूबे जा रही हैं
की मेरी हर एक चाहत, 
हर एक आस टूटे जा रही हैं.


जो हमे समझ ही नहीं सका,
उसे हक है हमें बुरा समझने का


सुना है...  
यहां शायर बहुत हैं
कुछ हमें..भी सुनाओ 
हम घायल बहुत हैं


आसमान को देख के,
एक आशा लेके निकलता हूं..!!
शाम ढलते ही एक,
चांद की ख्वाइश करता हूं..!!


कुछ बातों का दिल में ही 
दफ़न हो जाना सही होता है
क्योंकि उन बातों को समझने 
वाला इंसान भी तो चाहिए।

hindi shayari collection

मुझे तलाश सिर्फ 
सुकून की है
नाम रिश्ते का चाहे 
कुछ भी हो...


सीधा-साधा डाकिया जादू करे महान 
एक ही थैले में भरे आँसू और मुस्कान


ज़िन्दगी के हाथ तो नहीं होते......... 
पर वह कभी-कभी ऐसा थप्पड़ मारती है, 
जो सारी उम्र याद रहता है


कुदरत का नियम है...
मित्र और चित्र,
दिल से बनाओगे…


तो उनके रंग जरूर निखर आएंगे ❤️
तुझे शिकायत है...
कि मुझे बदल दिया है वक़्त ने.....!!
कभी खुद से भी तो सवाल कर...
‘क्या तू वही है'...........!!


फिर से सवेरा हुआ है .. 
मुजे झूठी दुनिया का दीदार कर लेने दे ॥ 
सो रहा कल रात भर से.  
मुजे आज फिर से कुछ काम कर लेने दे ॥


थक गए हु इस जिंदगी से 
मुजे आज थोड़ा और पसीना बहा लेने दे ॥ 
पिघल जाऊंगा इस छाँव से .. 
मुजे थोड़ी इस सूरज की धूप ले लेने दे ॥ 
अब तू आजा नीचे मेरे सर से .. 
मुजे हसरत है आज मुजे आँगन मे उछल ने दे ॥ 
दिन भर जलता रहा सूरज से .. 
मुजे अब रात के अँधेरों मे खो जाने दे ॥ 
ना जाने कितनी दुआ ओर फ़रियाद लिए .. 
अब ये सूरज ढल रहा है अब बस उसे ढल जाने दे ॥


कुछ दबी हुई ख़्वाहिशें है, कुछ मंद मुस्कुराहटें.
कुछ खोए हुए सपने है, कुछ अनसुनी आहटें.


कुछ दर्द भरे लम्हे है, कुछ सुकून भरे लम्हात.
कुछ थमे हुए तूफ़ाँ हैं, कुछ मद्धम सी बरसात.


कुछ अनकहे अल्फ़ाज़ हैं, कुछ नासमझ इशारे.
कुछ ऐसे मंझधार हैं, जिनके मिलते नहीं किनारे.


कुछ उलझनें है राहों में, कुछ कोशिशें बेहिसाब.
बस इसी का नाम ज़िन्दगी है चलते रहिये, जनाब.


मेरे शहर की शाम अब भी बहुत खूबसूरत है,
यहाँ सूरज अब भी ढलता है,
पतंगे अब भी उड़ती हैं,
पंछी अब भी घर लौटते हैं।


शायद कुछ क़र्ज़ चुकाना 
बाक़ी रह गया होगा मेरे हिस्से का ...
वरना आज मेरी ख्वाहिशें अधूरी ना होती


चेहरे की हंसी को दिल की खुशी 
समझ लेते हैं लोग...
काश ! कुछ पल रुककर किसी ने 
दिल का हाल भी समझा होता ...💕


छूने तेरे लबों को मचल रही है ,
देख चाय कैसे उबल रही है ।


कश्ती है पुरानी मगर दरिया बदल गया;
मेरी तलाश का भी तो जरिया बदल गया,
न शकल बदली न ही बदला मेरा किरदार,
बस लोगों के देखने का नजरिया बदल गया !


लोग सीने में क़ैद रखते हैं ,
हम ने सिर पर चढ़ा लिया दिल को ..
खुशियों तकदीर मैं होनी चाहिए
तस्वीर मैं तो हर कोई हँसता हैं.


एक क़द्रदान गयी
और सवाल छोड़ गयी


मैं तुझ से साथ भी तो 
उम्र भर का चाहता था
सो अब तुझ से गिला भी 
उम्र भर का हो गया है


उसे अपने अमल का हिसाब क्या देते 
सवाल सारे ग़लत थे जवाब क्या देते.


ज़मीर हमसे बेचा ना गया,
वरना शाम तक अमीर हो जाते..!


वाकिफ़ तो हम भी हैं मशहूर होने के तौर तरीकों से,
पर ज़िद तो हमें अपने अंदाज से जीने की है।


बेवफा नही थी वो 
यूँही बदनाम हो गयी 


लाखों चाहने वाले थे उसके , 
किस किस से वफ़ा करती ।

beautiful hindi love shayari


जो भी अच्छा होता है 
वो सब उनके बदौलत होता है 
मैं घर का छोटा हूँ ना , 
मेरा हर काम गलत होता है


एक नफरत है जिसको पल
भर में महसूस कर लिया जाता है 
और
एक प्रेम है जिसका यकीन दिलाने के
लिए सारी जिंदगी भी कम पड़ जाती है...


रोज़ धुलती है मेरी शराफ़त 
नील के पानी से
की शायद इस तरह 
दाग़ छिप जायें
रोज़ हँसता हूँ अपने ऊपर 
कि शायद इस तरह 
मेरी ग़लतियाँ छिप जायें


आपका दिल बहुत कीमती है.... 
कोशिश करें... 
इसमें वही रहे, 
जो रहने के काबिल है !!


रग रग मे दौड़े तू खून के जैसे,
महकाये तू मुझे कुसुम के जैसे,
ना लगती तू मुझसे अलग अलग
सी लगती तू मुझे कुटुंब के जैसे,
मुझमें जान सी आ जाती है लगता
तुझे देखकर मुझे तब्बसुम के जैसे,
वो तेरी आवाज मे क्या जाँ सी 
चलती है सुनूँ मै कोई धुन के जैसे,


कुछ ऐसे फूल हैं 
जिन्हें मिला नहीं माहौल, 
 महक रहें हैं 
मगर जंगलों में रहते हैं....


लोग सब बहुत अच्छे होते है बशर्ते.. 
 हमारा वक्त अच्छा होना चाहिए...


कहा सागर ने : चुप रहो!
मैं अपनी अबाधता जैसे सहता हूँ, 
अपनी मर्यादा तुम सहो।
जिसे बाँध तुम नहीं सकते
उस में अखिन्न मन बहो।
मौन भी अभिव्यंजना है : 
जितना तुम्हारा सच है उतना ही कहो।


मेरी बढ़ती दाड़ी को गम  
के बादल न समझना ,
में बस चेहरा छुपाये तुझे देख रहा हूँ


टूटा तारा देख कर दिल ने कहा 
मांग ले तू फ़रियाद कोई,
मैंने कहा जो खुद टूट रहा है, 
कैसे पूरी करेगा वो मुराद कोई..


ये गर्मियों का मौसम
सुबह-सुबह धूप का नजारा
चाय के 2 कप
1 कप हमारा ओर
दूसरा भी हमारा..😊


ना बताओ बात हमें तजुर्बों की .....
कुछ पन्ने क़िताबों के मुड़े रहने दो ....
छू लो आसमाँ , चाहे नाप लो समंदर ...
मगर पांव ज़मीं से जुड़े रहने दो ....।


ताकत अपने लफ़्ज़ों में डालों, 
आवाज़ में नहीं,
क्योंकि फसल बारिश से उगती है, 
बाढ़ से नही।

इतने घने बादल के पीछे
कितना तन्हा होगा चाँद...
NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
NEXT ARTICLE Next Post
PREVIOUS ARTICLE Previous Post
 

Delivered by FeedBurner